दक्षिण-पूर्व एशिया का पहला प्रोटोन थेरेपी सेंटर भारत में आरंभ हुआहाल ही में, चेन्नई में प्रोटोन कैंसर सेंटर का उद्घाटन किया गया। भारत में मल्टी-स्पेशल…

Current-Affairs : दक्षिण-पूर्व एशिया का पहला प्रोटोन थेरेपी सेंटर भारत में आरंभ हुआ
Subscribe Our Youtube Channel.
Date 2019-02-14 : हाल ही में, चेन्नई में प्रोटोन कैंसर सेंटर का उद्घाटन किया गया। भारत में मल्टी-स्पेशलिटी अस्पतालों की श्रृंखला चलाने वाली अपोलो हॉस्पिटल्स एंटरप्राइज लिमिटेड द्वारा प्रोटोन कैंसर सेंटर (एपीसीसी) का शुभारम्भ किया गया है। इससे अब कैंसर पीड़ितों को एक विशेष रूप की रेडियोथेरेपी उपलब्ध सुनिश्चित की जा सकेगी जो कि कैंसर कोशिकाओं को नष्ट करने में काफी सहायक सिद्ध होगी। चेन्नई में स्थित इस सेंटर से वैश्विक स्तर की सभी व्यापक कैंसर चिकित्सा प्रदान की जाएगी। कैंसर चिकित्सा की सीमाओं को बढ़ाने वाले अपोलो प्रोटोन कैंसर सेंटर (एपीसीसी) की क्षमता 150 बेड्स की है।
एपीसीसी में पीड़ितों को आधुनिकतम पेंसिल-बीम स्कैनिंग तकनीक के साथ आधुनिक मल्टी-रूम प्रोटोन थेरेपी दी जाएगी जो कि सुस्पष्टता और निवारण की मात्रा सबसे अधिक होती है। पारम्परिक रेडिएशन थेरेपी की अपेक्षा प्रोटोन थेरेपी के लाभ कई गुना अधिक हैं, विश्वभर के 2,00,000 से भी अधिक पीड़ितों को इससे राहत मिली है। प्रोटोन बीम थेरेपी से कैंसर चिकित्सा का सटीक जगह पर इलाज होता है, जिससे स्वस्थ कोशिकाओं का नुकसान कम होता है। कैंसर पीड़ित भी आरामदायक जीवन जी सकता है और पूरी तरह से स्वस्थ जीवन पाने की सम्भावना बढ़ती है। और इसके दुष्प्रभाव भी कम होते हैं और अच्छे प्रभाव अधिक मात्रा में अनुभव किए जा सकते हैं।
Provide comments for ‘दक्षिण-पूर्व एशिया का पहला प्रोटोन थेरेपी सेंटर भारत में आरंभ हुआ’
Next Articles :
Prev Articles :
Follow On :

Leave a Comment