जसप्रीत बुमराह: वन डे, टेस्ट मैच और टी-20 में रिकार्ड्स

वर्तमान में जसप्रीत जसबीर सिंह बुमराह भारतीय गेंदबाजी आक्रमण की रीढ़ हैं. वर्तमान में वह आईसीसी की वनडे रैंकिंग में नम्बर वन की रैंक पर हैं. बुमराह को क्रिकेट के सभी प्रारूपों में स्लॉग ओवर में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज माना जाता है. वह लगातार 140-145 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करते हैं, जिससे वह भारत के सबसे तेज गेंदबाज माने जाते हैं. वह इन-स्विंगिंग यॉर्कर डिलीवरी में भी माहिर हैं.

व्यक्तिगत जानकारी:

पूरा नाम: जसप्रीत जसबीर सिंह बुमराह

जन्म तिथि और स्थान: 6 दिसंबर 1993 (उम्र 25), अहमदाबाद, गुजरात

ऊंचाई: 5’9 इंच

निक नाम: जेबी, जस्सी

बॉलिंग: राइट-आर्म फास्ट

भूमिका: गेंदबाज

कोच / मेंटर: किशोर त्रिवेदी

ODI डेब्यू: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 23 जनवरी 2016 को सिडनी में

टेस्ट मैच डेब्यू: 5-8 जनवरी, 2018 को केपटाउन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ

टी -20-I डेब्यू: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 26 जनवरी 2016 को एडिलेड में

जसप्रीत बुमराह को वर्तमान में क्रिकेट की सनसनी कहा जा रहा है. विश्व कप 2019 में बुमराह ने अब तक सबसे अधिक 9 मेडेन ओवर फेंके हैं और तीसरे सबसे अधिक विकेट (18) लेने वाले गेंदबाज भी हैं. उनका इकॉनमी रेट 3.30 के आस पास है अर्थात वह हर ओवर में लगभग 3.30 रन ही खर्च करता है.

न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान डैनियल विटोरी ने कहा, “यह भारतीय गेंदबाज वर्तमान समय में इतनी अच्छी गेंदबाजी कर रहा है कि उसको खेलना लगभग असंभव सा प्रतीत हो रहा है.
आइये बुमराह के क्रिकेट करियर पर नजर डालते हैं;

बुमराह का एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय करियर:
बुमराह ने अपने एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय करियर की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 23 जनवरी 2016 को की थी. बुमराह अब तक 57 मैचों में 103 विकेट ले चुके हैं.

बुमराह ने मुहम्मद शमी के बाद सबसे तेज 100 एकदिवसीय विकेट लिए हैं. शमी ने 100 विकेट केवल 56 मैचों में लिए थे जबकि बुमराह ने यह कारनामा 57 मैचों में किया था.

बुमराह को उनकी इकॉनमी बहुत खास बॉलर बनाती है. बुमराह की इकॉनमी रेट केवल 4.5 रन प्रति ओवर है.
बुमराह ने अब तक एक दिवसीय मैचों में 5 बार 4 विकेट भी लिए हैं और एक बार पांच विकेट लेने का कारनामा भी किया है.
बुमराह को मैच के आखिरी ओवेर्स में सबसे किफायती गेंदबाज माना जाता है.

सबसे तेज 100 विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज इस प्रकार हैं;

1. मोहम्मद शमी – 56 मैच

2. जसप्रीत बुमराह- 57 मैच

3. इरफान पठान -59 मैच

4. जहीर खान- 65 मैच

5. अजीत अगरकर- 67 मैच

बुमराह का टेस्ट मैच करियर:
बुमराह ने अपने टेस्ट करियर की शुरुआत 5-8, 2018 को केपटाउन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ की थी. बुमराह ने अभी तक सिर्फ 10 टेस्ट मैच खेले हैं.

बुमराह ने 10 टेस्ट मैचों में 49 विकेट लिए थे और उनका सर्वश्रेष्ठ बोलिंग रिकॉर्ड 6/33 है. उन्होंने 3 बार 5 विकेट लिए हैं जबकि उनकी इकॉनमी सिर्फ 2.66 प्रति ओवर है.

जसप्रीत बुमराह एक ही कैलेंडर वर्ष में दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पारी में 5 विकेट लेने वाले पहले एशियाई गेंदबाज हैं.
हालाँकि बुमराह टेस्ट मैच प्रारूप में नए हैं, लेकिन उन्होंने टेस्ट मैच में 40 साल पुराना भारतीय रिकॉर्ड तोड़ दिया है. जसप्रीत बुमराह ने टेस्ट क्रिकेट में अपने प्रथम वर्ष में 48 विकेट लेकर भारत के लिए पहले वर्ष में सर्वाधिक विकेट लेने का दिलीप दोशी का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. दिलीप दोशी ने 1979 में अपने डेब्यू टेस्ट वर्ष में 40 विकेट लिए थे.

बुमराह का T-20 I करियर इस प्रकार है;
बुमराह को फटाफट क्रिकेट में महारत हासिल है शायद यही कारण है कि वे अभी तक केवल 42 मैचों में 51 विकेट ले चुके हैं. आश्चर्य करने वाली बात यह है कि T-20 I में भी उनका इकॉनमी रेट केवल 6.71 रनों का है. इस फॉर्मेट में उनका बेस्ट बोलिंग फिगर 3/11 है.

T-20 I फॉर्मेट में बुमराह का स्ट्राइक रेट 18 है इसका मतलब है कि वह 18 रन खर्च करने के बाद एक विकेट ले लेता है. बता दें कि भुवनेश्वर कुमार का स्ट्राइक रेट 26 और मुहम्मद शमी का 31 रन है. इन सबकी तुलना करके आप अनुमान लगा सकते हैं कि बुमराह कितना किफायती बॉलर है.

बुमराह की कमाई (2018):

1. बीसीसीआई से अनुबंध शुल्क (वार्षिक वेतन): रु.7 करोड़

2. टेस्ट मैच का शुल्क: रु. 15 लाख प्रति मैच

3. ODI शुल्क: रु. 6 लाख प्रति मैच

4. टी-20-I: रु. 3 लाख प्रति मैच

5. आईपीएल 11 सीजन: रु. 7 करोड़ (मुंबई इंडियंस)

इसलिए ऊपर दिए गए तथ्यों से यह स्पष्ट है कि जसप्रीत बुमराह क्रिकेट के सभी प्रारूपों में बहुत प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं. उन्होंने क्रिकेट विश्व कप 2019 में अब तक सिर्फ 3.30 की इकॉनमी रेट के साथ 18 विकेट लिए हैं और सबसे अधिक 9 मेडेन ओवर भी फेंके हैं. उम्मीद है कि आने वाले वर्षों में हम इस भारतीय तेज गेंदबाज के बारे में बहुत कुछ सुनने को मिलेगा.

डकवर्थ लुईस नियम क्या है और क्रिकेट में इसे कैसे इस्तेमाल किया जाता है?

भारत बनाम न्यूजीलैंड: विश्व कप मैच रिकॉर्ड

Leave a Comment